Home » Archive

Articles tagged with: कहानी

चर्चा में किताब, संगीत-कला, है कुछ खास...पहला पन्ना »

[27 Mar 2011 | 10 Comments | ]
कहानी / दूसरा जीवन

प्रभात रंजन। एकेडेमिक्स के साथ लिट्रेचर में भी उल्लेखनीय दखल। परिचय लिखते समय इतना अंग्रेजियाना इसलिए हो रहा हूं, क्योंकि उनका फॉर्मल इंट्रोडक्शन प्रतिलिपि बुक्स की वेबसाइट से उड़ाया है। हाल में ही प्रभात रंजन का नया कहानी संग्रह बोलेरो क्लास आया है। इसी संग्रह से उनकी एक कहानी यहां चौराहा के पाठकों के लिए, बरास्ता त्रिपुरारि कुमार शर्मा, और अब उधार मांगा गया परिचय…PRABHAT RANJAN was born in Sitamadhi, Bihar, in 1970, and is one of Hindi’s leading young writers, editors and journalists. He did his PhD on …

साहित्य-सिनेमा-जीवन »

[18 Mar 2011 | 9 Comments | ]
बदलाव

# शौभिक पालित

माई ! ए माई ! खाना दे ना….माई ! ओ माई ! खाना दे ना…भोत भूख लगी है…कुछ दे दे  ना माई !!”  एक मासूम और बेसुरी सी संगीतमय आवाज़ सुबह सुबह गुप्ताजी के घर के बाहर गूँज उठी I उस आवाज़ की लय अभी पूरी तरह से ख़त्म भी नहीं हुई थी कि उस बेसुरे संगीत को बीच से चीरती हुई गुप्ताईन की क्रोध भरी एक कर्कश चीख सुनाई पड़ी-  “क्या है ? रोज़ रोज़ यहाँ खाना मांगने चली आती हो? हमने ठेका लिया है तुझे खिलाने …