Home » Archive

Articles tagged with: आवेश तिवारी

गांव-घर-समाज »

[13 Apr 2011 | One Comment | ]

– आवेश तिवारी
दिल्ली अब दिल वालों की नहीं रही ,कंक्रीट के इस शहर ने यहाँ के लोगों के दिलों को भी पत्थर का कर दिया है ,सबके सब भागते हुए अनंत की ओर |अगर ऐसा न होता तो क्या अनुराधा मरती ?नोएडा के सेक्टर २९ में दो बहनों का सात महीने तक खुद को एक कमरे में बंद रखना और पास पड़ोस में किसी को खबर तक न होना  बताता है ,कि आज की दिल्ली न सिर्फ अमानवीय और  क्रूर है बल्कि दिल्ली वालों के सामाजिक सरोकार  भी पूरी तरह …

है कुछ खास...पहला पन्ना »

[6 Apr 2011 | 2 Comments | ]
एक थी स्नेहलता

देश में अन्ना हजार की  भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम रंग ला रही है, हमें जेपी याद आ रहे हैं, हमें आपातकाल  भी याद आ रहा है, महान क्रांतियाँ हमेशा महान वर्तमान लेकर आएं, जरूरी नहीं, लोकतंत्र में गिरगिट की तरह रंग बदलती  राजनीति और संवेदनहीन  अफसरशाही की वजह से कुछ समय बाद फिर से क्रांति की जरूरत महसूस होने लगती है…ये चक्र निरंतर चलता  रहता है| ऐसी क्रांतियों को सफल बनाने वाले कई  चेहरे भुला दिए जाते है या फिर समय उन पर धूल की मोटी परत चढ़ा देता है| आप …