Home » खेल-तमाशा, दिल के झरोखे से...

यारो का टशन में मि. एक्स से यो-मैन का मुकाबला

2 February 2017 No Comment

मुंबई डेस्क । सोनी सब की साइंस-फिक्शन कॉमेडी में मि. एक्स (अजय शर्मा) के आने से एक नया मोड़ आ गया है। अब उसका चेहरा सबके सामने आ चुका है। काफी समय तक मि. एक्स का चेहरा सबके सामने नहीं आया था, वह बार-बार यो-मैन (अनिरुद्ध दवे) से हार रहा रहा था। लेकिन अब बहुत हो चुका है, उसने तय कर लिया है कि वह अब यो-मैन का सामना करके अपना बदला लेगा।

इस हफ्ते की कहानी में, मि.एक्स यो-मैन को हराने के लिये एक नई साजिश रचता है। वह शहर के लोगों से पैसे छीन लेता है। उसने छोटे-छोटे रोबोटिक मच्छर बनाये हैं, जिसके काटने से व्यक्ति इतना ज्यादा हंसता है कि सांस रुकने लगती है और वह बीमार पड़ जाता है। शहर के लोग मच्छरों के उस झुंड से डर जाते हैं। मि.एक्स लोगों का इलाज करने के बदले उनसे पैसे ऐंठता है। शहर के डॉक्टर्स और वैज्ञानिक चकित हैं कि उनके पास इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है।। यहां तक कि यो-मैन का सामना भी उन मच्छरों से होता है, लेकिन वो उसका कुछ नहीं बिगाड़ पाते। इससे मि.एक्स और भी बौखला जाता है।

मच्छरों को खत्म करने का उपाय जानने के लिये, यो-मैन एक मच्छर को पकड़ लेता है और प्रोफेसर अग्रवाल (राकेश बेदी) से मदद मांगता है। इसका उपाय ढूंढने का वादा करने के साथ, प्रोफेसर अग्रवाल ट्रांसमिशन डिश एंटीना को तोड़कर उसे मजबूत इलेक्ट्रोमैग्नेट में बदल देते हैं। यो-मैन मच्छरों को बहला-फुसलाकर उसकी रेंज में लेकर जाता है और बड़ी मुश्किल से खुद को उसमें जाने से रोक पाता है। वे सारे मच्छर तेज मैग्नेटिक फील्ड के कारण खत्म हो जाता है। शहर के लोग खुश हो जाते हैं और जश्न मनाते हैं। लेकिन उनकी खुशी ज्यदा देर तक टिक नहीं पाती, क्योंकि मि.एक्स दोगुनी संख्या में मच्छरों को भेजता है। इस बार मच्छर पहले से भी ज्यादा हिंसक हैं।

यो-मैन चिंतित हो जाता है। अब उसके पास एक ही रास्ता बचा है कि वह मि.एक्स का सामना करे और उसका रिमोट चुरा ले, जिससे वह उन मच्छरों को कंट्रोल करता है।

क्या यो-मैन मि.एक्स को खत्म करने में कामयाब हो पायेगा? क्या होगा जब यो-मैन और मि.एक्स आमने-सामने आयेंगे? यो-मैन की भूमिका निभा रहे अनिरुद्ध दवे ने, इस ट्रैक के बारे में बताते हुए कहा, ‘‘इस दुष्ट चाल के साथ मि.एक्स शहर को बर्बाद करने और लोगों से पैसे ऐंठने की कोशिश करता है। यो-मैन जो हमेशा ही लोगों की रक्षा के लिये तैयार रहता है, मच्छरों को खत्म करने की पूरी कोशिश करता है, लेकिन सब बेकार हो जाता है। आखिर में जब उसे कोई रास्ता नहीं सूझता तो वह मि. एक्स का सामना करने का फैसला करता है। उनका मुकाबला देखना काफी मजेदार होगा।’’

Comments are closed.