Home » साहित्य-सिनेमा-जीवन

इरफान खान के मैनेजर भी बने प्रोड्यूसर

31 October 2012 No Comment

हर कोई अपनी जिन्दगी में तरक्की की सीढ़ी चढना चाहता है चाहे वो फिल्म अभिनेता हो , निर्माता हो या फिर फिल्म अभिनेताओं व अभिनेत्रियों को मैनेज करने वाला खुद मैनेजर। ऐसे ही एक हैं सनी शाह जो की पिछले कई वर्षों से फिल्म सेलेब्रेटी को मैनेज कर रहे हैं और अब उनका अगला कदम है फिल्म निर्माता बन कर लोगों को अच्छी — अच्छी फ़िल्में देकर उनका मनोरंजन करना.

इसी कड़ी में उनका अगला कदम है फिल्म ‘ ले गया सद्दाम ‘ . सनी शाह इस फिल्म के सह निर्माता हैं। अपनी इस फिल्म के बारे में वो बताते हैं ,” 2 नवंबर को रिलीज़ हो रही यह फिल्म एक रूढ़िवादी मुस्लिम समाज की कहानी को दर्शाती है यह फिल्म बहुत ही मनोरंजक तरीके से मुस्लिम युवकों को तलाक के महत्व के बारे में भी बतायेगी और मुझे पूरा विश्वास है कि भले ही यह एक छोटे बजट की फिल्म है लेकिन इसके बावजूद दर्शक इसे पसंद करेगें। इसमें रघुवीर यादव, नवोदित सूफी सैय्यद और चिराग पाटिल (क्रिकेटर संदीप पाटिल के बेटे) ने अभिनय किया है व फिल्म को निर्देशित किया है अमजद खान ने।

पिछले 25 वर्षों से फ़िल्मी दुनिया से जुड़े सनी शाह ने सन 1988 में एक विज्ञापन एजेंसी शुरू की लेकिन उनकी यह एजेंसी कुछ करामात नहीं दिखा सकी और फिर उन्होंने शुरू किया सेलिब्रिटी को मैनेज करना शुरू किया। सबसे पहले उन्होंने टीवी स्टार देवेन भोजानी ( फिल्म – जो जीता वही सिकंदर ) का काम शुरू किया . इसके अलावा सनी ने पूजा बतरा, दिव्या दत्ता, राजपाल यादव, दर्शन जरीवाला, आर्य बाबर, अनूप सोनी, साक्षी तंवर व क्लौडिया सिसला आदि कला कारों के साथ भी काम किया। इन सबके अलावा सनी अभिनेता इरफ़ान खान के मैनेजर भी पिछले 10 सालों से हैं इनके साथ उनका रिश्ता कुछ ख़ास हैं कहते हैं सनी। उनकी इस फिल्म के म्यूजिक लांच के अवसर भी पर इरफ़ान अपने व्यस्त कार्यक्रम में से वक्त निकाल कर आये और उन्हें शुभकामनाये भी दी बताते हैं सनी,” उनका आना मेरे लिए बहुत ही मायने की बात है मैं जानता हूँ वो कितने वयस्त हैं फिर भी वो आये। और मेरा होंसला बढ़ाया।” उनसे पूछने पर कि आपने तलाक जैसे गंभीर मुद्दे पर फिल्म बनाई है तो क्या आपको यह विषय कुछ जोखिम भरा नही लगा ? तो उन्होंने कहा कि , ” नही बिलकुल भी नही क्योंकि हमने बहुत ही अच्छे तरीके से फिल्म के माध्यम से संदेश दिया है कि विवाह एक शाश्वत संबंध है।”

Comments are closed.