Home » साहित्य-सिनेमा-जीवन

अभिनेता जाकिर हुसैन बने दारा शिकोह

13 April 2012 No Comment

इन दिनों दूरदर्शन पर हर रविवार सुबह १० बजे प्रसारित हो रहा है धारावाहिक ‘उपनिषद गंगा’. चिन्मय मिशन द्वारा निर्मित व डॉ चन्द्रप्रकाश दिव्वेदी द्वारा निर्देशित इस धारावाहिक ‘उपनिषद गंगा’ में अलग — अलग कहानियाँ दिखाई जा रही हैं.

अगले रविवार यानि ८ अप्रैल को अभिनेता जाकिर हुसैन दारा शिकोह की भूमिका में दिखाई देंगे. “अभी तक दारा शिकोह को बहुत सारे लोग सिर्फ औरंगजेब के बड़े भाई के रूप में ही जानते थे लेकिन इस धारावाहिक को देखने के बाद उन्हें पता चलेगा कि वो कितना गुणी था, कितना काबिल था. इसी ने अपने गुरु मिया मीर के कहने पर ‘उपनिषद’ का संस्कृत से पर्शियन भाषा में अनुवाद किया था” कहते हैं अभिनेता जाकिर हुसैन.

जाकिर हुसैन ने यूं तो रत्नाकर, अघोरी बाबा अवदूत और यक्ष की भूमिका भी अभिनीत की है ‘उपनिषद गंगा’ में, लेकिन उनका सबसे प्रिय चरित्र है दारा शिकोह. इस चरित्र को अभिनीत करते हुए उन्हें बहुत ही मज़ा आया.

यह कहना है खुद जाकिर का. जो की कॉस्टयूम डिजायनर, थियेटर कलाकार, शास्त्रीय गायक, ताई कामांडो में ग्रीन बेल्ट धारक, एक कवि और भी बहुत कुछ हैं इन्होने एक हसीना थी, सरकार, अजब प्रेम की गज़ब कहानी, अल्लाह के बंदे, डरना जरुरी है, कांट्रेक्ट, दरवाज़ा बंद रखो, फूल एंड फायनल, जेम्स, जोनी गद्दार, शबरी, फूंक, शार्गिर्द व पान सिंह तोमर आदि अनेकों फिल्मों में काम किया है.

Comments are closed.